• calender
कोरोना के खिलाफ जंग में अरब देशों में अव्वल रहा यूएई
मई 15, 2021 | By - नितिन सिंह भदौरिया

कोरोना के खिलाफ जंग में अरब देशों में अव्वल रहा यूएई

दुनियाभर में कोरोना (Covid-19) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। अब तक विश्वभर में बड़ी संख्या में लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं लाखों लोग इस संक्रमण के चलते अपनी जान भी गवां चुके हैं। इस बीच सभी देश कोरोना को लेकर सख्त गाइडलाइन जारी कर और टीकाकरण अभियान को तेज कर इसे महामारी को हराने का हर संभव प्रयास कर रहे हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना को लेकर किसी भी देश की गंभीरता को संक्रमण से निपटने के लिए उसके द्वारा किए जा रहे प्रयासों से समझा जा सकता है। ऐसे में कंज्यूमर चॉइस सेंटर (Consumer Choice Centre) द्वारा जारी महामारी से निपटने के लिए Resilience Index 2021 की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना से निपटने के लिए किए प्रयासों में संयुक्त अरब अमीरात (UAE) अरब दुनिया में पहले स्थान पर है। यही नहीं विश्वभर के देशों की सूची में यूएई को दूसरा स्थान हासिल हुआ है।

क्या है इस रिपोर्ट का आधार

बता दें कि यह रिपोर्ट दुनियाभर के देशों द्वारा जारी सरकारी आंकड़ों के आधार पर तैयार की गई है। इसने विशेष रूप से संयुक्त अरब अमीरात(UAE) का उल्लेख किया गया है। यह साबित करता है कि राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम और कोरोना गाइडलाइन (Corona Guideline)सहित कोरोना से निपटने के लिए किए गए प्रयासों में यूएई का प्रदर्शन सभी यूरोपीय संघ (European Union)के देशों की तुलना में काफी बेहतर था।

यूएई में 50 फीसदी नागरिकों को लगी वैक्सीन

यूएई में टीकाकरण
यूएई में टीकाकरण

कंज्यूमर च्वाइस सेंटर के महाप्रबंधक फ्रेड रोएडर (Fred Roeder) का कहना है कि कोरोना से निपटने के लिए यूएई ने टीकाकरण पर विशेष ध्यान दिया। यही वजह है कि अब तक देश में 50 फीसदी से अधिक आबादी का टीकाकरण हो चुका है। रिपोर्ट में कोरोना वैक्सीन की मंजूरी, वितरण, अस्पतालों में मरीजों की देखभाल, बिस्तरों की संख्या और परीक्षणों की संख्या को लेकर 40 देशों की स्थितियों का अध्ययन किया गया है। बताया गया कि कोरोना परीक्षण के मामले में Cyprus और Luxembourg के बाद यूएई तीसरे स्थान पर हैं। वहीं परीक्षण के मामले में जर्मनी, इटली और फ्रांस जैसे देश यूएई से काफी पीछे हैं।

यूएई ने तैयार की स्वदेशी वैक्सीन

यूएई ने बनाई स्वदेशी वैक्सीन हयात-वैक्स
यूएई ने बनाई स्वदेशी वैक्सीन हयात-वैक्स

आपको बता दें कि संयुक्त अरब अमीरात में फाइजर-बायोएनटेक (Pfizer-Biontech), एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) और चीन की वैक्सीन साइनोफार्म (Cyanoform) वैक्सीन उपलब्ध है। लेकिन लोग Pfizer-Biontech कोरोना वैक्सीन को तरजीह दे रहे हैं। इसके साथ ही अभी हाल ही में संयुक्त अरब अमीरात ने अपनी स्वदेशी वैक्सीन ‘हयात-वैक्स’ (Hayat-Vax) तैयार कर ली है। अमीरात दवा निर्माता जुल्फर के संयंत्र में रास अल खैमा में इसका निर्माण किया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन(WHO) ने इस टीके के 78 फीसदी प्रभावी होने का दावा किया है। राष्ट्रीय आपात संकट और आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (National Emergency Crisis and Disasters Management Authority) ने वैक्सीन के वितरण की घोषणा शुरू कर दी थी। जिसके बाद इसके वितरण की सूचनाएं भी आने लगी हैं। इसके बाद से ही मध्य पूर्व के देशों में उल्लास का माहौल है।

यूएई में कोरोना की क्या है स्थिति

यूएई में कोरोना की स्थिति
यूएई में कोरोना की स्थिति

अगर संयुक्त अरब अमीरात में कोरोना की स्थिति और उससे निपटने को लेकर किए जा रहे प्रयासों पर बात करें तो यहां हर रोज बड़ी संख्या में लोगों का कोरोना परीक्षण किया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालाय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1,452 नए मामले सामने आए, इसके साथ ही देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 5,43,610 हो गई है। इस दौरान 3 अन्य कोरोना मरीजों की मौत से यूएई में कोरोना से मरने वाले लोगों की संख्या 1,626 हो गई है। वहीं यूएई में करीब 50 लाख नागरिकों यानी आधी आबादी से अधिक को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

उम्मीद है कि आपको इस ब्लॉग में दी गई जानकारी पसंद आई होगी। AlShorts लगातार ऐसे ही विषयों पर आपको दिलचस्प जानकारी उपलब्ध करवाता रहेगा। हमारे साथ जुड़े रहें और पढ़ते रहिए देश और दुनिया से जुड़े रोचक ब्लॉग्स।

Optimized with PageSpeed Ninja