न्याय का इन्तजार: एक साल बाद कहां तक पहुंची सुशांत मर्डर केस की जांच
जून 14, 2021 | By - नितिन सिंह भदौरिया

न्याय का इन्तजार: एक साल बाद कहां तक पहुंची सुशांत मर्डर केस की जांच

बॉलीवुड अभिनेता ‘सुशांत सिंह राजपूत’ (Sushant Singh Rajput Death Anniversary) की मौत को आज एक साल बीत गया है। लेकिन अभी तक उनके परिजनों और फैंस के दिल और दिमाग में कई सवाल हैं, जिनके जबाव मिलना अभी बाकी है। सुशांत (SSR) की पहली पुण्यतिथि पर लोग उन्हें याद कर श्रद्धांजलि दे रहे हैं तो वहीं सीबीआई की कार्रवाई पर सवाल भी उठ रहे हैं। लोगों का कहना है कि मामले को एक साल बीत गया। आखिर एजेंसी मामले में अंतिम निष्कर्ष तक कब पहुंचेगी।

सुशांत केस से किसको फायदा

सुशांत सिंह राजपूत हत्या मामला
सुशांत सिंह राजपूत हत्या मामला

सुशांत के प्रशंसकों का कहना है कि एक साल बीतने के बाद भी सीबीआई (CBI) अभी तक उन संदिग्ध परिस्थितियों का पता नहीं लगा पाई जिसमें सुशांत की मौत हुई। इसी मुद्दे पर सुशांत के एक दोस्त गणेश हिवारकर ने आरटीआई के ज़रिए कुछ जानकारी मांगी थी, जिसका उन्हें अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है। गणेश हिवारकर ने बताया, ‘सुशांत के केस को इतना छिपाकर रखने की ज़रूरत है नहीं, घटना को एक साल हो गया है। सुशांत (Sushant death case) के केस में जो भी हुआ वो मुझे लगता है कि पॉलिटिकल फ़ायदे के लिए हुए या फिर मीडिया को फ़ायदा हुआ या बाक़ी लोगों को लाभ मिला। सुशांत (SSR Case) के न्याय के बारे में मुझे तो कुछ नहीं दिख रहा।

दबाव में शुरू हुई SSR केस की जांच

गणेश का कहना है कि, लोगों के दबाव के चलते इस मामले की तहकीकात शुरू हुई वरना इस केस को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था। हालात यह हैं कि आज हर छोटे सा छोटा यूटूबर भी इस मामले का फ़ायदा उठा रहा है। पुलिस और कार्रवाई से बेखौफ होकर लोग कुछ भी कहानी बनाकर दिखा रहे हैं। मैंने तो कभी सोचा भी नहीं था कि इतने अच्छे इंसान का ये हाल होगा। इसके साथ ही गणेश ने पुलिस पर भी कई गंभीर आरोप लगाए हैं। बकौल गणेश, सुशांत मामले से पहले मैंने कभी पुलिस स्टेशन में पैर भी नहीं रखा था। इस मामले में मुझे पुलिस स्टेशन में पीटा तक गया है, शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया, लेकिन मुझे दुख इस बात का है कि मैंने एक अच्छे दोस्त को खो दिया।

दोस्त का दावा, सुशांत आत्महत्या करने वाले में नहीं

सुशांत की मौत से नहीं उठा पर्दा
सुशांत की मौत से नहीं उठा पर्दा

गणेश का कहना है कि सरकार ने उनकी फ़िल्म छिछोरे (Chhichhore) को आवार्ड दे दिया, कुछ पेपर में तारीफ़ हो गई लेकिन सच्चाई आज भी दूर है। मुझे आज भी लगता है कि जो इंसान मुझे आत्महत्या करने से रोक सकता है वो खुद आत्महत्या करेगा। ये बात मुझे आज भी समझ नहीं आती है। आज एक साल हो गया है, लेकिन 10 साल बाद भी मुझे कोई पूछे तो मैं तब भी यही कहूंगा।

कांग्रेस ने सीबीआई पर उठाए सवाल

कांग्रेस नेता सचिन सावंत ने सुशांत (SSR Death Anniversary)  की पहली पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि दी और सीबीआई की कार्रवाई पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि एम्स पैनल ने सुशांत की हत्या से इनकार किया था, लेकिन सीबीआई मामले में अंतिम निष्कर्ष पर कब पहुंचेगी। क्या सीबीआई पर अपने राजनीतिक आकाओं का दबाव है।

सुशांत के लिए भारत रत्न मांग रहे फैन्स

सुशांत के लिए भारत रत्न की मांग
सुशांत के लिए भारत रत्न की मांग

वहीं सुशांत की पहली पुण्यतिथि पर उनके फैन्स ने भारत सरकार से उन्हें भारत रत्न (Bharat Ratna for SSR) देने की अपील कर रहे हैं। एक यूजर ने पीएम मोदी (PM Modi) को टैग करते हुए लिखा अगर आप 2024 में फिर से चुनाव जीतना चाहते हैं तो आप सुशांत सिंह राजपूत को भारत रत्न से सम्मानित करें और हम अगले लोकसभा चुनाव में आपको फिर से सत्ता सौंपेंगे।

एक साल भी सुशांत की मौत बनी है राज

बता दें कि 14 जून 2020 को सुशांत सिंह राजपूत (SSR) का शव मुंबई स्थित उनके फ्लैट में फंदे से लटका मिला था। इसके बाद से इस केस में डिप्रेशन में खुदकुशी, नेपोटिज्म, पैसों के लिए सुशांत की मौत, ड्रग्स कनेक्शन जैसे कई सवाल उठे, लेकिन एक साल बीत जाने के बाद भी सुशांत की मौत एक राज ही बनी हुई है।

AVAILABLE ON

Optimized with PageSpeed Ninja