• calender
आईपीएल 2021: ऑक्शन से पहले जानिए टीमों की स्थिति, कौन इन कौन आउट?
जनवरी 22, 2021 | By - Prashant Sharma

आईपीएल 2021: ऑक्शन से पहले जानिए टीमों की स्थिति, कौन इन कौन आउट?

3 घंटे का झमाझम क्रिकेट, कहीं चौकों का वार तो कहीं छक्कों की बौछार। कभी रफ्तार ने दिखाया जोर, तो कभी स्पिन ने मचाया शोर। कुछ ऐसा होता है आपका, हमारा और सबका पसंदीदा टूर्नामेंट इंडियन प्रीमियर लीग। पैसे और पैशन का जब ये कॉकटेल मिलता है धमाका जरूर होता है, साल 2020 में इस लीग पर कोरोना ने ब्रेक जरूर लगाया था। लेकिन दुनिया के सबसे अमीर बोर्ड BCCI ने ना तो अपना नुकसान होने दिया और ना ही फैंस को निराश किया। जिसका नतीजा ये रहा कि ये लीग भारत की बजाय संयुक्त अरब अमीरात में हुई। कोरोना काल के बीच कड़े बायो बबल में इस लीग का आयोजन 19 सितंबर से लेकर 10 नवंबर 2020 तक हुआ, जिसने कई शानदार क्रिकेट के पल दिए और 13वें सीजन का नया चैंपियन दिया। अब साल 2021 की बारी है और एक बार फिर लीग की तैयारी शुरू हो चुकी है, जहां इस बार ये लीग अपने तय समय पर होगी। मिनी ऑक्शन की तारीख भी जल्द सामने आ जाएगी। वहीं इससे पहले नियमों के अनुसार लीग की सभी 8 टीमों नें अपने कुछ खिलाड़ियों को रिलीज कर दिया है, तो कुछ को रिटने कर लिया है। इस लिस्ट में कई चौंकाने वाले नाम भी रहे, किसी ने अपने कप्तान को बाहर किया, तो किसी ने सबसे महंगे खिलाड़ी को टीम से रवाना कर दिया। तो आज अलशॉर्ट्स आपको इन्हीं खिलाड़ियों की पूरी लिस्ट बताने जा रहे है, तो चलिए करते है शुरूआत।  

किसका कटा टिकट, कौन पहनेगा टीम का किट

IPL 2020 के लिए मिनी ऑक्शन फरवरी महीने की शुरूआती तारीखों में हो सकता है। 13वें सीजन के बाद बोर्ड 14वां सीजन करवाने के लिए बोर्ड के पास ज्यादा समय नहीं हैं, ऐसे इस बार आपको इस लीग का मिनी ऑक्शन ही देखने को मिलेगा।
 

1. मुंबई इंडियंस 

सबसे पहले बात करें चैंपियन टीम  मुंबई इंडियंस की तो मुंबई ने अपने कुल 7 खिलाड़ियों को रिलीज कर दिया है, वहीं 18 खिलाड़ियों को फिर से रिटेन कर लिया है। इसका मतलब ये है कि ये 18 खिलाड़ी अपको अगले सीजन में भी मुंबई से खेलते दिखेंगे।
रिलीज खिलाड़ियों के नाम: दिग्विजय देशमुख, जेम्स पैटिंसन, शेरफेन रदरफोर्ड, लासिथ मलिंगा, नाथन कुल्टर नाइल, मिचेल मैक्लेनघन, प्रिंस बलवंत सिंह।
 

2. दिल्ली कैपिटल्स

पिछले साल फाइनल मुकाबले में हारने वाले दिल्ली की टीम पिछले 2 सालों से शानदार प्रदर्शन कर रही है। इसी कड़ी में टीम अपने आप को और मजबूत बनाना चाहती है। जिसे देखते हुए टीम ने 6 खिलाड़ियों को बाहर का रस्ता दिखा दिया है, वहीं 19 खिलाड़ियों को अपने साथ बरकरार रखा है
रिलीज खिलाड़ियों के नाम: जेसन रॉय, कीमो पॉल, मोहित शर्मा, संदीप लामिछाने, तुषार देशपांडे, एलेक्स कैरी।
 

3. राजस्थान रॉयल्स 

हर सीजन का शानदार आगाज करने वाली राजस्थान की टीम के सितारे हमेशा गर्दिश में रहे हैं, लीग के आखिर में आते-आते टीम की सारी स्ट्रेटेजी धरी की धरी रह जाती है। इसी को देखते हुए टीम ने कड़ा फैसला लिया है और कप्तान स्मिथ का साथ छोड़ दिया है। टीम ने कुल मिलाकर अपने 8 खिलाड़ियों को रिलीज कर दिया है और 17 खिलाड़ियों को बरकरार रखा है।  वहीं राजस्थान रॉयल्स ने ट्रेड करते हुए रोबिन उथप्पा को चेन्नई सुपर किंग्स को सौंप दिया है।
रिलीज खिलाड़ियों के नाम: स्टीव स्मिथ, वरुण एरॉन, ओशेन थॉमस, अंकित राजपूत, अनिरुद्ध जोशी, शशांक सिंह, आकाश सिंह, टॉम करन।
 
 

4. कोलकाता नाइटराइडर्स  

फैंस की सबसे फेवरेट टीमों से एक KKR ने भी अपने 6 खिलाड़ियों को गुड बाय बोल दिया है, वहीं 18 खिलाड़ी 14वें सीजन में भी कोलकाता की जर्सी पहनते नजर आएंगे। 
रिलीज खिलाड़ियों के नाम: हैरी गर्नी, क्रिस ग्रीन, सिद्धेश लाड, टॉम बैंटन, निखिल नाइक, एम सिद्धार्थ।
 

5. किंग्स इलेवन पंजाब

 
KXIP इस बार के ऑक्शन में अपनी टीम में बड़े बदलाव कर सकती है, जिसे देखते हुए टीम भारी संख्या में खिलाड़ियों को रिलीज कर दिया है। रिलीज किए गए खिलाड़ियों की संख्या 9 है, वहीं रिटने कुल 16 खिलाड़ी किए हैं।

रिलीज खिलाड़ियों के नाम: करुण नायर, मुजीब उर रहमान, ग्लेन मैक्सवेल, हार्डस विलोजेन, शेल्डन कॉटरेल, जगदीश सुचित, जिमी नीशम, कृष्णप्पा गौथम, तजिंदर सिंह।
 
 

6. सनराइजर्स हैदराबाद 21 प्लेयर्स रिटेन किए, 5 को रिलीज किया

SRH ने सबसे ज्यादा अपने खिलाड़ियों पर भरोसा जताया है, जहां टीम ने महज 5 खिलाड़ियों को बाहर का रस्ता दिखाया है। वहीं 21 खिलाड़ियों को अपने साथ ही रखा है।  
रिलीज खिलाड़ियों के नाम: फैबियन एलन, विराट सिंह, बावनका संदीप, बिली स्टेनलेक, संजय यादव।
 

7. रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु: 12 प्लेयर्स रिटेन किए, 10 को रिलीज किया

अब तक एक भी IPL का खिताब ना जीतने वाली विराट की टीम ने इस बार सबसे ज्यादा खिलाड़ियों का साथ छोड़ दिया है। जहां टीम ने सबसे ज्यादा 10 खिलाड़ियों को तुरंत प्रभाव से रिलीज किया है, वहीं सिर्फ 12 खिलाड़ियों को अपने साथ रखा है।  
रिलीज खिलाड़ियों के नाम: पार्थिव पटेल, शिवम दुबे, गुरकीरत सिंह मान, मोईन अली, डेल स्टेन, एरॉन फिंच, इसुरु उदाना, क्रिस मॉरिस, पवन नेगी, उमेश यादव।
 

8. चेन्नई सुपर किंग्स  

IPL में सबकी फेवरेट माही की CSK टीम ने भी इस बार कड़े फैसले लिए हैं, जहां टीम ने हरभजन से लेकर केदार जाधव तक को टाटा कर दिया है। वहीं अगले ऑक्शन में टीम युवा खिलाड़ियों पर बोली लगता सकती है। टीम ने अपने कुल 6 खिलाड़ियों का रिलीज कर दिया है और 18 खिलाड़ियों को साथ रखा है। 

रिलीज खिलाड़ियों के नाम: हरभजन सिंह, मुरली विजय, पीयूष चावला, केदार जाधव, मोनू कुमार, शेन वॉटसन।

 
किस टीम के गुल्लक में कितना पैसा? 

रिलीज और रिटेन करने के बाद सभी 8 टीमों के बैंक बैलेंस फिर से बढ़ गए हैं, जिसके बाद टीम ज्यादा रकम के साथ और भी शानदार खिलाड़ियों को अपनी टीम में शामिल कर सकती है। मिनी ऑक्शन से ठीक पहले टीमों के पर्स में मौजूद रकम भी सबके सामने आ गई है। जिसमें सबसे अमीर पंजाब की टीम है, वहीं सबसे कम पैसे हैदराबाद के पास हैं। 
 

ट्रेड विंडो भी खिलाड़ियों की खरीद का एक और विकल्प 

मिनी ऑक्शन के चलते इस बार ज्यादा खिलाड़ियों को नहीं खरीदा जाएगा, लेकिन ट्रेड विंडो के तहत खिलाड़ी एक टीम से दूसरी टीम में भी शिफ्ट हो सकते हैं। दरअसल, इस विंडो में  फ्रेंचाइजी मालिक अपने मर्जी के मुताबिक दूसरी टीम के खिलाड़ी अपने टीम में शामिल कर सकते हैं। इसमें दोनों फ्रेंचाइजियों की आपसी रजामंदी होती है। इस साल ये विंडो 4 फरवरी तक खुली है।

कहां होगा इस बार का IPL?  

‘Board Of Control For Cricket In India’ यानी की BCCI दुनिया का सबसे अमीर बोर्ड। जो जल्द ही IPL के आयोजन को लेकर अपना फैसला लेगा, फिलहाल BCCI इस लीग की मिनी ऑक्शन की तारीखों पर फोकस कर रहा है। लेकिन जल्द ही लीग के वेन्यू को लेकर भी फैसला हो सकता है और कोरोना काल का ये समय एक बार फिर शायद BCCI की गाड़ी को UAE मोड़ सकता है। 
 

पिछले साल IPL को हुआ था बड़ा नुकसान

IPL का मतलब होता है बंपर पैसों की बारिश और फायदा ही फायदा, लेकिन जहां फायदा होता है वहां नुकसान का भी डर होता है। ऐसा ही नुकसान IPL को चुका है, इसक नुकसान का कारण था IPL का भारत से बाहर होना। हाल ही में ब्रिटेन की बिजनेस वैल्यूएशन कन्सल्टेंसी कंपनी ब्रांड फाइनेंस ने IPL 2020 को लेकर अपनी एक एनुअल रिपोर्ट जारी की थी। जिसमें बताया गया थी लीग के देश से बाहर होने का असर इसकी  ब्रांड वैल्यू  पर पड़ा था, जिसमें  22% का नुकसान हुआ था। वहीं 2020 में भारत में IPL के ना होने से यहां के राज्य क्रिकेट संघों को भी बड़ा नुकसान झेलना पड़ा था। क्योंकि IPL का एक मैच कराने के लिए इन संघों को मोटी रकम दी जाती है और हर मैदान पर 6-7 मैच होते हैं। लेकिन 2020 में इन्हें निराशा ही हाथ लगी थी।

Optimized with PageSpeed Ninja