• calender
ब्लैक पैंथर ऑफ ऑक्सफोर्ड साशा जॉनसन पर हमला, साजिश या इत्तेफाक?
मई 24, 2021 | By - नितिन सिंह भदौरिया

ब्लैक पैंथर ऑफ ऑक्सफोर्ड साशा जॉनसन पर हमला, साजिश या इत्तेफाक?

ब्लैक लाइव्स मैटर अभियान का एक बड़ा चेहरा और ब्लैक पैंथर ऑफ ऑक्फोर्ड (Black panther of oxford) के नाम से मशहूर एक्टिविस्ट साशा जॉनसन (Black Lives Matter activist Sasha Johnson) इस वक्त अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रही हैं। दरअसल, रविवार सुबह (23 मई) को कुछ अज्ञात लोगों ने साशा जॉनसन (Sasha Johnson shot) के सिर में गोली मार दी। इसके बाद उन्हें आनन-फानन में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों का कहना है कि साशा की हालत स्थिर बनी हुई है।

एक बयान से सुर्खियों में आईं थी साशा

साशा जॉनसन उस वक्त सुर्खियों में आई थीं, जब उन्होंने ब्लैक लाइव मैटर्स कैम्पेन (Black Lives Matter)  का आयोजन किया था। उस वक्त लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने काले रंग का चश्मा, काले रंग का कपड़ा पहन रखा था। उन्होंने पिछले साल कहा था कि ‘नस्लीय हिंसा में शामिल लोगों को वैसी ही सजा मिलनी चाहिए और उन्हें उसी तरह से देखना चाहिए, जैसी सजा एक रेपिस्ट को मिलती है और एक रेपिस्ट तो देखा जाता है।

तीन बच्चों की मां हैब्लैक पैंथर ऑफ ऑक्सफोर्ड

तीन बच्चों की मां है साशा जॉनसन
तीन बच्चों की मां है साशा जॉनसन

अगर साशा के जीवन के बारे में बात करें तो वो शुरूआत से ही ब्लैक लाइव मेटर के लिए अपनी आवाज बुलंद करती रही हैं। इसके बाद उन्होंने इस अभियान को व्यापक रूप देने के लिए ‘टॉकिंग द इनिशिएटिव’ पार्टी की स्थापना की। साशा जॉनसन ने ऑक्सफोर्ड ब्रूक्स विश्वविद्यालय से स्नातक किया है और ब्रिटेन में  हमेशा से ब्लैक समुदाय के अधिकार के लिए संघर्ष करती आई हैं और अश्वेत लोगों से होने वाले अन्याय के खिलाफ काफी मुखरता से आवाज उठाती रही हैं। यही वजह है कि साशा को ब्लैक पैंथर ऑफ ऑक्सफोर्ड (Black panther of oxford) नाम से भी पुकारा जाता है। एक एक्टिविस्ट होने के अलावा 27 वर्षीय साशा जॉनसन तीन बच्चों की मां है और एक कैफे भी चलाती हैं। साशा अपने परिवार के संग साउथ ईस्ट लंदन में रहती है।

मल को लेकर क्या सोचती है पुलिस

 पुलिस ने साशा पर हुए हमले की जांच शूरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि हमला एक घर के आसपास हुई है, जहां एक पार्टी हो रही थी, जहां कई लोग मौजूद थे। पुलिस के मुताबिक, अभी यह कहना मुश्किल है कि गोली साशा को ही निशाना बनाकर चलाई गई थी, मुमकिन है कि हमलावरों का निशाना पार्टी में शामिल कोई अन्य शख्स हो और हमलावरों का निशाना चूकने से साशा घायल हो गईं। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

साउथ लंदन के पुलिस अधिकारियों का कहना है कि ‘अभी ये कहना जल्दबाजी होगा कि उन्हें किसी विरोध की वजह से निशाना बनाया गया है, लेकिन हम हर एंगल से जांच कर रहे हैं।’ साउथ ईस्ट लंदन पुलिस ने उन लोगों से भी सामने आने की अपील की है, जो इस घटना का चश्मदीद बन सकते हैं। वहीं, फॉरेंसिक टीम ने वारदात वाली जगह को पूरी तरह से सील कर दिया है। डिटेक्टिव चीफ इंस्पेक्टर जिमी टेस ने कहा कि ‘ये घटना शॉकिंग है, जिसमें एक महिला बुरी तरह से घायल हुई हैं। हमारी संवेदनाएं महिला के परिवार के साथ है और इस दुख की घड़ी में हम उनके परिवार की हर संभव मदद करेंगे।’

टेकिंग द इनिशिएटिव ने ोगों से की ये अपील

अश्वेत लोगों के अधिकारों के लिए साशा ने हमेशा उठाई आवाज
अश्वेत लोगों के अधिकारों के लिए साशा ने हमेशा उठाई आवाज

साशा के समूह टेकिंग द इनिशिएटिव (Taking The Initiative) पार्टी ने सोशल मीडिया पर साशा पर हुए हमले की जानकारी दी है। इसके साथ ही लोगों से साशा के लिए प्रार्थना करने की अपील भी की है। वहीं सोशल मीडिया पर भी लोग साशा पर हुए हमले की निंदा कर रहे हैं और उनके जल्द स्वस्थ्य होने की कामना भी कर रहे हैं।

दोस्त े बताया क्यों हुआ है हमला

साशा जॉनसन के दोस्त Imarn Ayton  ने बताया कि उसे काफी लंबे वक्त से जान से मारने की धमकियां दी जा रहीं थीं। उनके द्वारे उठाए गए सवालों से परेशान किसी शख्स ने उन्हें बेहद बर्बर तरीके से निशाना बनाया गया है।  डॉक्टरों का कहना है कि गोली लगने से उनके सिर में गहरा जख्म हो गए हैं। फिलहाल साशा वो आईसीयू में हैं।

उम्मीद है कि आपको इस ब्लॉग में दी गई जानकारी पसंद आई होगी। Alshorts लगातार ऐसे ही विषयों पर आपको दिलचस्प जानकारी उपलब्ध कराता रहेगा। हमारे साथ जुड़े रहें और पढ़ते रहिए देश और दुनिया से जुड़े रोचक ब्लॉग्स।

Optimized with PageSpeed Ninja